Home Loan Transfer For Low Interest– मजबूरी में ले लिया ज्यादा ब्याज दर वाला होमलोन तो ऐसे करो इंटेरेस्ट रेट को कम

इस आर्टिकल में हम आपको Home Loan Transfer के बारे में जानकारी देने जा रहे हैं जिसकी मदद से आप अपने उच्च ब्याज दर वाले होम लोन की ब्याज दर को कम कर सकते हैं। मकान बनाना या खरीदना किसी भी व्यक्ति के जीवन का सबसे बड़ा निवेश होता है जिसके लिए अकसर लोग होम

Photo of author

Reported by Praveen Singh

Published on

JOIN US ON TELEGRAM Join Now
JOIN US ON WHATSAPP Join Now

इस आर्टिकल में हम आपको Home Loan Transfer के बारे में जानकारी देने जा रहे हैं जिसकी मदद से आप अपने उच्च ब्याज दर वाले होम लोन की ब्याज दर को कम कर सकते हैं। मकान बनाना या खरीदना किसी भी व्यक्ति के जीवन का सबसे बड़ा निवेश होता है जिसके लिए अकसर लोग होम लोन का सहारा लेते हैं। कभी कभी जानकारी के अभाव, पर्याप्त दस्तावेज न होने अथवा किन्ही अन्य कारणों से हम ऐसे ऋणदाता के माध्यम से गृह ऋण (Home Loan) ले लेते हैं जिसकी ब्याज दरें काफी ज्यादा होती हैं।

जिससे हमारे जेब पर कर्ज का अतिरिक्त बोझ बढ़ जाता है। अगर आपने भी मजबूरी में ले लिया ज्यादा ब्याज दर वाला होमलोन तो हमारे इस लेख में दी गए जानकारी के माध्यम से आप अपने गृह ऋण के इंटेरेस्ट रेट को कम कर सकते हैं।

इस आर्टिकल के माध्यम से हम आपको बताएँगे कि होम लोन बैलेंस ट्रांसफर क्या होता है? इसके क्या लाभ हैं? इसकी प्रक्रिया क्या है? इस प्रक्रिया में आपको कुल कितना पैसा खर्च करना पड़ सकता है? Home Loan Transfer हेतु आवेदन करने से पहले बरती जाने वाली सावधानियां क्या है? इसके अलावा Home Loan Transfer की सुविधा प्रदान करने वाले देश के प्रमुख बैंकों के नाम, उनकी ब्याज दर और प्रोसेसिंग फीस के बारे में विस्तार से जानकारी प्रदान करने जा रहे हैं। अतः आप सभी सम्मानित पाठक साथियों से अनुरोध है कि Home Loan Transfer के बारे में पूरी जानकारी क्रमबद्ध और आसान भाषा में पाने के लिए हमारे इस आर्टिकल को अंत तक जरूर पढ़ें।

Home Loan Transfer for Low Interest

Home Loan Transfer क्या होता है?

होम लोन बैलेंस ट्रांसफर एक ऐसी सुविधा है जिसमे आप अपने मौजूदा लोन को दूसरे बैंक या वित्तीय संस्थान में स्थानांतरित (home loan transfer from one bank to another) कर सकते हैं। लोग लोन लोन ट्रांसफर की सुविधा सामान्यतः पर तीन मुख्य कारणों से चुनते हैं। पहला कम ब्याज दर प्राप्त करना, दूसरा लोन पुनर्भुगतान का समय बढ़ाना और तीसरा ऋण राशि का टॉप-अप प्राप्त करना। प्रायः लोगों को लोन ट्रांसफर के फायदे के बारे में जानकारी ही नहीं होती है।

होम लोन 20 से 30 साल तक की लम्बी अवधि का होता है जिसमे आपकी कमाई का एक बड़ा हिस्सा ऋण चुकाने में खर्च हो जाता है। क्योकि आपके लोन की ईएमआई में एक बड़ा हिस्सा ब्याज का होता है। होम लोन बैलेंस ट्रांसफर से आपके कम ब्याज दर पर लोन पाकर आप अपने काफी पैसे बचा सकते हैं।

Personal Loan Top Up; पहले से है कोई लोन फिर भी मिलेगा दूसरा लोन; जानें ये आसान तरीका

लाभ (Benefit)

  • लोन ट्रांसफर कराने के लिए आपके नए ऋणदाता को दिए जाने वाली प्रोसेसिंग फीस और पिछले ऋणदाता को दिए जाने वाले लोन प्रीपेमेंट चार्ज पर आयकर अधिनियम की धारा 24 (B) के तहत इनकम टैक्स में छूट मिल सकती है।
  • आयकर अधिनियम के सेक्शन 24 के तहत, आप अगर पहली बार लोन ट्रांसफर करा रहे हैं तो दूसरे लोन को भी होम लोन के रूप में माना जाता है।
  • आपको लोन पर कम ब्याज का भुगतान करना पड़ता है जिससे आपके होम लोन की EMI कम हो जाती है।
  • Home Loan Transfer से आपको लोन जमा करने के लिए अतिरिक्त समय मिल जाता है।

होम लोन ट्रांसफर हेतु अप्लाई करने से पहले बरतें ये सावधानी

अगर आपने भी मजबूरी में ले लिया ज्यादा ब्याज दर वाला होमलोन और अब Home Loan Transfer के बारे में सोच रहे हैं तो सबसे पहले आपको यह जानकारी कर लेनी चाहिए की वर्तमान में आपने जिस ऋणदाता से होम लोन लिया वह लोन के प्री-पेमेंट पर किसी तरह का चार्ज लेता है या नहीं। आरबीआई के गाइडलाइंस के अनुसार बैंक लोन रिपेमेंट (Pre-Payment) के लिए किसी तरह का शुल्क नहीं ले सकते हैं जबकि एनबीएफसी को कुछ मामलों में ये चार्ज लेने की छूट है। अगर आपने बैंक से फिक्स ब्याज दर पर होम लोन लिया है तो बैंक आपसे प्रीपेमेंट चार्ज ले सकते हैं।

  • लोन के प्री-पेमेंट या रिपेमेंट की लागत कितनी आती है।
  • लोन ट्रांसफर में लगने वाली प्रोसेसिंग फीस कितनी है।
  • वर्तमान और प्रस्तावित नए ऋणदाता के वार्षिक ब्याज दर में अंतर कितना है।
  • लोन अवधि- अगर आपके होम लोन के भुगतान की लम्बी अवधि बची हुई हो तभी आपको Home Loan Transfer का विकल्प चुनना चाहिए क्योकि अगर थोड़ी अवधि ही बची होगी तो आपको लोन ट्रांसफर में आने वाली लागत, ब्याज दर में कमी से होने वाली बचत से ज्यादा हो जाएगी। इससे आपको लोन ट्रांसफर की सुविधा का कोई लाभ नहीं मिल पायेगा।

सैलरी से नहीं हो रहा गुजारा तो लेलो 30 हजार से 50 लाख का लोन, कोई इनकम प्रूफ कोई कोलैट्रल

लोन का 101% वादा, lendingplate से बिना किसी डॉक्युमेंट्स के 10 हजार से 2.5 लाख का लोन

Home Loan Transfer की सुविधा प्रदान करने वाले प्रमुख बैंक, ब्याज दर और प्रोसेसिंग फीस

बैंक द्वारा आपके होम लोन की बकाया राशि पर Home Loan Transfer की सुविधा मिलती है। जिसमे दो लोन के दो स्लैब बनाये गए हैं, पहला 35 लाख तक के लोन के लिए और दूसरा 35 लाख से अधिक लेकिन 75 लाख तक के लोन हेतु। नीचे दी गई टेबल में आपको होम लोन बैलेंस ट्रांसफर की सुविधा देने वाले देश के प्रमुख बैंकों के नाम और home loan transfer charges के बारे में जानकारी दी गई हैं। जिससे आप जान सकते हैं इसके लिए कौन सा बैंक सबसे अच्छा (which bank is best for home loan transfer) है।

बैंक का नाम ब्याज दर
(35 लाख तक के होम लोन पर)
ब्याज दर
(36 लाख से 75 लाख तक के होम लोन पर)
प्रोसेसिंग फीस
SBI8.40% से 10.15% बीच8.40 -10.05 तक0.35% लोन राशि का
ICICI होम फाइनेंस8.70%8.75%0.50% से 2.0% तक
PNB होम8.50% से  शुरू8.50% से 14.50% तक0.35%
TATA कैपिटल8.70 से शुरू8.85%0.5%
LIC हॉउसिंग फाइनेंस8.35% से 10.35% तक8.35% से 10.55% तक0.25%
IDFC FIRST बैंक8.75%8.75%3% तक
BAJAJ HOUSING फाइनेंस8.40%8.40%7% तक
UBI HOME LOAN8.35%8.35 से 10.90% तकछूट
कोटक महिंद्रा बैंक लोन8.70%8.70% से शुरू0.5%
BOB होम लोन8.40% से शुरू8.40%0.50% (स्लैब वाइज )
AXIS बैंक8.70%8.70% से 13.30% तक1% तक
HDFC 8.90% से 9.60% तक0.50% से 1.50 %

होम लोन बैलेंस ट्रांसफर की प्रक्रिया (Home Loan Transfer Process) क्या है?

अगर आपने भी मजबूरी में ले लिया ज्यादा ब्याज दर वाला होमलोन तो इस आर्टिकल में दिए गए तरीके को अपनाकर आप अपने होम लोन के इंटेरेस्ट रेट को कम कर सकते हैं।

  • होम लोन ट्रांसफर कराने का सबसे बड़ा कारण वर्तमान ऋणदाता द्वारा लोन पर ली जाने वाली उच्च ब्याज दर होती है। इसीलिए सबसे पहले सभी प्रमुख बैंकों के होम लोन बैलेंस ट्रांसफर के वार्षिक ब्याज दरों के बारे में जानकारी एकत्र करिये। जैसा कि ऊपर टेबल में दिया गया है।
  • अगर कोई बैंक आपके वर्तमान बैंक से कम ब्याज दर पर लोन ऑफर कर रहा है तो आपको अपने वर्तमान ऋणदाता से संपर्क करके यह बताना होगा कि मुझे लोन ट्रांसफर कराना है क्योंकि आपके लोन की ब्याज दर अमुख बैंक से ज्यादा है। ऐसे में कई बार यह संभावना बनती है कि मौजूदा लेंडर ही कुछ चार्ज लेकर आपको कोई बेहतर इंटरेस्ट रेट ऑफर कर दे।
  • अगर आपका वर्तमान ऋणदाता होम लोन पर कम ब्याज दर का ऑफर नहीं दे रहा हो तो उनसे Loan Liability Certificate देने के लिए कहिये। इस सर्टिफिकेट को लेकर अपने नए बैंक से संपर्क करना पड़ेगा। जहाँ आपको नए ऋणदाता को कुछ जरुरी KYC डाक्यूमेंट्स देकर लोन एग्रीमेंट पर हस्ताक्षर करना पड़ेगा इसके बाद नया ऋणदाता बैंक उस राशि का चेक या DD बनाकर आपके वर्तमान ऋणदाता को दे देगा और उससे आपके प्रॉपर्टी के कागजात ले लेता है।

बच्चे को विदेश मे पढ़ाने मे पैसा बन रहा मुसीबत तो आज ही लें 45 लाख तक का लोन, वो भी थोड़े से ब्याज दर पर

How to Increase Cibil Score From 600 to 750? इन आसान तरीको से बढ़ा लो अपना Cibil Score, फिर मत कहना बताया नहीं

इस प्रक्रिया में कितना पैसा खर्च होगा?

होम का प्रीपेमेंट चार्ज और होम लोन बैलेंस ट्रांसफर की प्रोसेसिंग फीस लोन राशि पर निर्भर कराती है जो कि विभिन्न ऋणदाताओं के अनुसार भिन्न होती है। आपके होम लोन ट्रांसफर पर निम्नलिखित चार्ज देना पड़ता है।

  • आपके वर्तमान ऋणदाता द्वारा लोन के प्री-पेमेंट पर लिया जाने वाला चार्ज, हालाकि कई मामलों में ये चार्जेज माफ हो जाते हैं।
  • नए ऋणदाता द्वारा होम लोन बैलेंस ट्रांसफर के लिए लिया जाने वाला प्रोसेसिंग फीस। फेस्टिव सीजन में आपको इन चार्जेज पर छूट मिल सकती है।
  • नॉमिनल स्टाम्प ड्यूटी और अन्य चार्जेज।
About the author

Praveen Singh

नमस्कार दोस्तों! मेरा नाम प्रवीण कुमार सिंह है और मै इस वेबसाइट का एडमिन और लेखक हूँ। मैंने 2011 में अपना बी.एड पूरा करने के बाद से ही ऑनलाइन लेखन का काम शुरू कर दिया था, और इस वेबसाइट का बनाने का उद्देश्य भी मेरा यही था कि मैं अपने लेखन से उन सभी लोगो की मदद कर सकूँ जो इंटरनेट पर कुछ जानकारी लेने आते हैं।

Leave a Comment