JOIN US ON TELEGRAM Join Now
JOIN US ON WHATSAPP Join Now

PMEGP Loan; ₹30 लाख के लोन पर 35% माफ़ी, खुशी से झूम उठोगे तरीका जान कर

PMEGP Loan योजना के अंतर्गत आपको निर्माण (Manufacturing), बिज़नेस और सर्विस सेक्टर की नयी यूनिट की स्थापना के लिए 50 लाख तक लोन मिलता है। इस लोन पर सरकार द्वारा लाभार्थी की पात्रता श्रेणी के अनुसार 35 प्रतिशत तक की सब्सिडी भी मिलती है। देश का कोई भी नागरिक पीएमईजीपी योजना के अंतर्गत स्वीकृत 1056 प्रोजेक्ट्स में से किसी को भी शुरू करने के लिए लोन ले सकता है। अगर आप भी अपना व्यवसाय शुरू करने के बारे में सोच रहे हैं और आपके पास एक अच्छा बिज़नेस प्लान/ प्रोजेक्ट है तो इस योजना के अंतर्गत लोन लेकर आप अपने सपनों को साकार कर सकते हैं।

इस आर्टिकल में हम आपको इस योजना के अंतर्गत स्वीकृत प्रोजेक्ट के नाम, उनकी अनुमानित लागत, प्रोजेक्ट रिपोर्ट देखने का तरीका, विभिन्न श्रेणी के अंतर्गत मिलने वाली लोन सब्सिडी, आवेदन हेतु पात्रता, आवश्यक दस्तावेज और आवेदन प्रक्रिया (PMEGP Loan Apply) के बारे में विस्तार से जानकारी प्रदान करने जा रहे हैं।

अतः आप सभी सम्मानित पाठक साथियों से अनुरोध है कि इस योजना के बारे में विस्तार से जानने (PMEGP Loan Details) के लिए हमारे इस आर्टिकल को अंत तक जरूर पढ़ें। क्योकि इस आर्टिकल में PMEGP योजना के अंतर्गत कम ब्याज पर 35% माफ़ी के साथ लोन पाने की पूरी प्रक्रिया को बहुत आसान शब्दों में बिंदुवार (Stepwise) बताया गया है।

PMEGP Loan; ₹30 लाख के लोन पर 35% माफ़ी, खुशी से झूम उठोगे तरीका जान कर

PMEGP Loan 2024 क्या है?

इस योजना का पूरा नाम प्रधानमंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम (Prime Minister Employment Generation Program) है। इसे प्रधानमंत्री रोजगार योजना (PMRY) और ग्रामीण रोजगार सृजन कार्यक्रम (REGP) को एक करके बनाया गया था। PMRY और REGP को 31 मार्च 2008 को बंद करके अगस्त 2008 में PMEGP स्कीम को शुरू किया गया था। इस योजना में भारत के सभी पात्र नौजवानों को अपना व्यापार शुरू करने के लिए सरकार बैंकों से लोन उपलब्ध कराती है जिस पर सरकार द्वारा लाभार्थी की पात्रता श्रेणी के अनुसार 15% से लेकर 35% तक की सब्सिडी प्रदान की जाती है। योजना के अंतर्गत प्रोजेक्ट की श्रेणी के अनुसार 50 लाख तक का ऋण दिया जाता है।

31 मई 2022 को इस योजना को वित्त वर्ष 2025-26 तक के लिए बढ़ा दिया गया है। इस योजना के क्रियान्वयन (Implementation) की जिम्मेदारी खादी और ग्रामोद्योग आयोग (Khadi and Village Industries Commission) को दी गई है।

Highlights

आर्टिकल का नामPMEGP Loan
योजना की शुरुआतअगस्त 2008
उद्देश्यरोजगार सृजन और स्वरोजगार हेतु नयी इकाइयों को ऋण प्रदान करना
लाभ35% तक की सब्सिडी के साथ 50 लाख तक का लोन
योजना का संचालन करने वाली संस्थाखादी और ग्रामोद्योग आयोग (Khadi and Village Industries Commission- KVIC)
योजना समाप्ति की प्रस्तावित अवधिवित्त वर्ष 2025-26
PMEGP Portal ऑफिसियल वेबसाइटhttps://www.kviconline.gov.in/pmegp
आवेदन की प्रक्रियाऑनलाइन

इसे भी देखें – Instant Cash Loan in 1 Hour without Documents; 5 हजार से 5 लाख तक का तत्काल लोन 1 घंटे में, ये हैं वो बैंक जो दे रहे

पीएमईजीपी योजना में मिलने वाले लोन की राशि

इस योजना में पहली बार नयी यूनिट की स्थापना और पहले से स्थापित यूनिट को अपग्रेड करने के लिए लोन मिलता है। नए और Existing PMEGP यूनिट के Upgradation के लिए मिलने वाले अधिकतम लोन का विवरण नीचे दिया गया है। सरकार द्वारा PMEGP स्कीम के अंतर्गत प्रत्येक यूनिट के लिए अधिकतम प्रोजेक्ट लागत को निर्धारित किया गया। जिसके बारे में आपको इसी आर्टिकल में आगे बताया गया है।

नए आवेदकों के लिए

PMEGP Loan Scheme के अंतर्गत आपको एक हजार से भी अधिक तरह के व्यवसायों के लिए लोन दिया जाता है। इस योजना के अंतर्गत व्यवसाय के प्रकार अनुसार अधिकतम लोन की राशि निर्धारित की गई है। इस स्कीम के अंतर्गत पहली बार निर्माण क्षेत्र (Manufacturing Sector) से सम्बंधित व्यवसाय हेतु अधिकतम 50 लाख तक के प्रोजेक्ट पर लोन दिया जाता है। जबकि बिज़नेस और सर्विस सेक्टर से सम्बंधित इकाइयों की स्थापना हेतु अधिकतम 20 लाख के प्रोजेक्ट पर लोन दिया जाता है।

इस योजना के अंतर्गत सामान्य श्रेणी के आवेदक को प्रोजेक्ट की कुल लागत (Project Cost) का 90 प्रतिशत लोन दिया जाता है शेष 10 प्रतिशत आवेदक को अपने पास से खर्च करने पड़ते हैं। जबकि विशेष श्रेणी के आवेदकों को प्रोजेक्ट की कुल लागत का 95 प्रतिशत लोन मिलता है शेष 5% पैसा उन्हें अपने आप से खर्च करना पड़ता है। विशेष श्रेणी के अंतर्गत SC, ST, OBC, अल्पसंख्यक, महिला, भूतपूर्व सैनिक, ट्रांसजेंडर, दिव्यांग, भारत सरकार द्वारा निर्धारित पहाड़ी और सीमावर्ती क्षेत्र तथा आकांक्षी जिले के आवेदकों को शामिल किया गया है।

उदाहरण के लिए 20 लाख के लागत वाले प्रोजेक्ट पर सामान्य श्रेणी के लाभार्थी को 18 लाख जबकि विशेष श्रेणी के लाभार्थी को 19 लाख का लोन मिलेगा।

इसे भी देखें – Canara Bank Personal Loan; Get Rs. 85000 Loan in 5 Minutes, Without any Cibil and Income

Existing PMEGP यूनिट के Upgradation के लिए 2nd लोन

इसमें PMEGP, REGP और MUDRA योजना के अंतर्गत पहले से ही लोन लेकर स्थापित की गई यूनिट के विस्तार करने के लिए भी लोन मिलता है। इसके अंतर्गत निर्माण क्षेत्र से सम्बंधित यूनिट के Upgradation के लिए अधिकतम 1 करोड़ का लोन मिलता है जबकि बिज़नेस और सर्विस सेक्टर से सम्बंधित यूनिट को अपग्रेड करने के लिए अधिकतम 25 लाख का लोन मिलता है।

इसके अंतर्गत सभी श्रेणी के आवेदकों को यूनिट को अपग्रेड करने के लिए प्रोजेक्ट की लागत का 90 प्रतिशत लोन मिलता है। इसके अंतर्गत लाभार्थी को 15 प्रतिशत सब्सिडी भी मिलती है।

लोन पर मिलने वाली सब्सिडी (PMEGP Loan Subsidy Detail)

PMEGP Loan योजना के अंतर्गत आवेदक की श्रेणी और क्षेत्र के अनुसार अलग-अलग सब्सिडी प्रदान की जाती है। इस सब्सिडी में आपके पात्रता श्रेणी के अनुसार निर्धारित लोन की राशि माफ़ की जाती है। इस योजना के अंतर्गत सामान्य श्रेणी के शहरी क्षेत्र के आवेदकों को 15 प्रतिशत जबकि ग्रामीण क्षेत्र के आवेदकों को 25 प्रतिशत सब्सिडी मिलती है। योजना के अंतर्गत विशेष श्रेणी के शहरी क्षेत्र के आवेदकों को 25 प्रतिशत जबकि ग्रामीण ग्रामीण क्षेत्र से आने वाले आवेदकों को 35 प्रतिशत सब्सिडी मिलती है। विशेष श्रेणी के अंतर्गत SC, ST, OBC, अल्पसंख्यक, महिला, भूतपूर्व सैनिक, ट्रांसजेंडर, दिव्यांग, भारत सरकार द्वारा निर्धारित पहाड़ी और सीमावर्ती क्षेत्र तथा आकांक्षी जिले के आवेदकों को शामिल किया गया है।

उदाहरण के लिए 20 लाख के प्रोजेक्ट पर सामान्य श्रेणी के ग्रामीण लाभार्थी को 5 लाख जबकि शहरी लाभार्थी को 3 लाख की सब्सिडी मिलेगी। वही विशेष श्रेणी के शहरी लाभार्थी को 5 लाख जबकि ग्रामीण लाभार्थी को 7 लाख की सब्सिडी मिलेगी।

सिबिल स्कोर ख़राब है तो इसे देखे –सिबिल स्कोर हो गया ख़राब? परेशान मत हो, ऐसे बढ़ाओ अपना सिबिल स्कोर

ब्याज दर (PMEGP Loan Interest Rate)

आपको बता दें कि PMEGP योजना का क्रियान्वयन खादी एवं ग्रामोद्योग आयोग (KVIC) दिया किया जाता है जो अपने तरफ से कोई भी लोन नहीं देता है। KVIC आपके आवेदन को योजना से सम्बन्ध विभिन्न बैंकों को अग्रसारित (Forward) कर देता इसके बाद बैंक आपके प्रोजेक्ट पर लोन देने का निर्णय लेते हैं। योजना के अंतर्गत मिलने वाले लोन की ब्याज दर अलग अलग बैंकों के अनुसार भिन्न भिन्न है तो सामान्यतः 11 से 13 प्रतिशत के बीच हो सकती है।

किन बिज़नेस के लिए मिलेगा लोन

पीएम रोजगार सृजन कार्यक्रम के अंतर्गत विभिन्न प्रकार के 1056 व्यवसायों को शुरू करने लोन दिया जाता है। इस योजना के अंतर्गत स्वीकृत व्यवसाय के नाम और यूनिट के लिए स्वीकृत अधिकतम प्रोजेक्ट लागत के बारे में जानने के लिए ऑफिसियल वेबसाइट के होमपेज पर Download Projects के लिंक पर क्लिक करें। सभी स्वीकृत व्यवसायों के नाम, प्रोजेक्ट रिपोर्ट और लागत की लिस्ट को सीधे देखने के लिए यहाँ देखे।

वित्तीय वर्ष 2023-24 की Progress Report

प्रधानमंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम (PMEGP) की ऑफिसियल वेबसाइट के डैशबोर्ड पर उपलब्ध डाटा के अनुसार वित्त वर्ष 2023-24 में इस योजना की प्रोग्रेस रिपोर्ट निम्नलिखित है।

योजना के अंतर्गत ऋण हेतु प्राप्त कुल आवेदन की संख्या 364866
बैंकों को लोन हेतु अग्रसारित (Forward) किये गए आवेदन पत्रों की संख्या317024
बैंकों द्वारा अप्रूव किये गए आवेदन पत्रों की संख्या116210
PMEGP Loan योजना के अंतर्गत सब्सिडी लेने हेतु प्राप्त कुल आवेदन 93067
योजना के अंतर्गत सब्सिडी पाने वाले आवेदकों की संख्या59233

ये हैं पात्रता की शर्तें (PMEGP Loan Eligibility)

पीएम रोजगार सृजन स्कीम के अंतर्गत ऋण के लिए आवेदन हेतु पात्रता की शर्तें निम्नलिखित हैं।

  • ये योजना के अंतर्गत केवल भारतीय नागरिक ही आवेदन कर सकते हैं।
  • आवेदक की न्यूनतम आयु 18 वर्ष होनी चाहिए।
  • निर्माण क्षेत्र के लिए 10 लाख तथा बिज़नेस/ सर्विस सेक्टर की यूनिट के लिए 5 लाख से अधिक का लोन लेने के लिए आवेदक को न्यूनतम 8वीं पास होना अनिवार्य है।
  • इसमें PMEGP योजना के अंतर्गत स्वीकृत व्यवसायों के लिए ही लोन मिलेगा किसी अन्य व्यवसाय के लिए नहीं।
  • ऐसी इकाइयां जिन्हे केंद्र अथवा राज्य सरकार के किसी भी अन्य योजना के अंतर्गत पहले से ही सब्सिडी मिल चुकी है वो इस योजना के अंतर्गत आवेदन के लिए पात्र नहीं हैं।

सिबिल स्कोर जीरो है फिर भी चाहिए लोन तो इसे देखो –1.5 लाख का इंस्टेंट पर्सनल लोन बिना सिबिल के, आधार कार्ड से ही हो जाएगा काम

आवश्यक दस्तावेज

इस योजना के अंतर्गत ऋण हेतु आवेदन करने के लिए आपको निम्नलिखित दस्तावेजों (PMEGP Loan Documents) की आवश्यकता पड़ेगी।

  • आधार कार्ड।
  • पैन कार्ड।
  • पासपोर्ट साइज फोटो।
  • आपके द्वारा शुरू किये जाने वाले व्यवसाय की प्रोजेक्ट रिपोर्ट।
  • मशीन और अन्य सामानों की खरीद के लिए अनुमानित खर्च का विवरण।
  • इकाई की स्थापना के लिए प्रस्तावित बिल्डिंग का ब्लूप्रिंट और अनुमानित व्यय।
  • यूनिट की स्थापना के लिए प्रस्तावित जमीन के मालिकाना हक़/ लीग एग्रीमेंट अथवा किरायेदारी नामा।
  • जाती प्रमाण पत्र।
  • ग्रामीण क्षेत्र का प्रमाण पत्र (यदि लागू हो)
  • स्किल डेवलपमेंट प्रोग्राम अथवा EDP ट्रेनिंग का प्रमाणपत्र।
  • शैक्षिक योग्यता से सम्बंधित प्रमाण पत्र।
  • Authorization letter

30 लाख के लोन के लिए ऑनलाइन आवेदन प्रक्रिया

आइये जानते हैं कि आपको कैसे मिलेगा 30 लाख तक का लोन वो भी कम ब्याज और 35% माफ़ी के साथ। इसके लिए PMEGP Portal की ऑफिसियल वेबसाइट पर आवेदन करना पड़ेगा। इस योजना के अंतर्गत लोन हेतु ऑनलाइन आवेदन (PMEGP Loan Apply Online) के लिए नीचे दिए गए स्टेप्स को फॉलो करें।

  • सबसे पहले पोर्टल के होमपेज पर Application For New Unit के नीचे Apply के लिंक पर क्लिक करके पोर्टल पर अपना पंजीकरण करना है।
PMEGP Apply
  • पंजीकरण (Registration) करने के बाद एक बार पुनः पीएमईजीपी पोर्टल के होमपेज पर Registered Applicant के नीचे Login के लिंक पर क्लिक करना है। इसके बाद पोर्टल पर अपने यूजर आईडी और पासवर्ड के माध्यम से पोर्टल पर लॉगिन करके अपने आवेदन फॉर्म को सावधानी पूर्वक भरकर Submit कर देना है।
  • अब आपको इंतजार करना होगा, कुछ टाइम के बाद आपको ईमेल के द्वारा सूचित किया जाएगा

Related Post

Leave a Comment

error: Content is protected !!