Ration Card: Types, Application, Services

Ration Card: राशन कार्ड जो देश के प्रत्येक आर्थिक रूप से कमजोर एवं जरूरतमंद परिवार के लिए राज्य सरकारों के खाद्य आपूर्ति एवं उपभोक्ता मामले विभाग की और से जारी किया जाने वाला एक बेहद ही महत्त्वपूर्ण सरकारी दस्तावेज है। यह कार्ड देश के उन नागरिकों को जारी किया जाता है, जो राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा ए के अंतर्गत सार्वजनिक वित्तरण प्रणाली के तहत सब्सिडी खरीदने के लिए पात्र हैं।

नागरिकों को राशन कार्ड खाद्य विभाग द्वारा उनकी आय के आधार पर प्रदान किए जाते हैं, जिसके लिए वह अब घर बैठे ही ऑनलाइन आवेदन की प्रक्रिया को पूरा कर सकते हैं।

ऐसे में जिन नागरिकों के पास राशन कार्ड नहीं है और राशन कार्ड के लिए आवेदन करना चाहते हैं तो इस लेख के माध्यम से हम आपको राशन कार्ड के प्रकार, राशन कार्ड लिए आवेदन, वन नेशन वन राशन कार्ड से संबंधित संपूर्ण जानकारी प्रदान करेंगे, जिसके लिए आप लेख को पूरा अवश्य पढ़ें।

Ration Card Types, Ration Card Application
Ration Card Types, Ration Card Application

राशन कार्ड क्या है?

राशन कार्ड देश के सभी राज्य सरकारों द्वारा नागरिकों को जारी किया जाने वाला एक आधिकारिक दस्तावेज है, जिसका माध्यम से नागरिकों को सार्वजनिक वित्तरण प्रणाली के तहत सब्सिडी दरों पर खाद्य समाग्री का वित्तरण किया जाता है। राशन कार्ड का उपयोग पहचान प्रमाण पत्र के रूप में भी किया जाता है।

खाद्य आपूर्ति विभाग द्वारा नागरिकों को उनकी आय एवं आर्थिक स्थिति के आधार पर अलग-अलग श्रेणी के राशन कार्ड जारी किए जाते हैं, जिनके जरिए नागरिकों को नेशनल फ़ूड सर्विस एक्ट के तहत पीडीएस दुकानों से तय कीमत पर खाद्यान्न जैस गेंहू, दाल, चांवल, चीनी, कैरोसीन तेल आदि का वित्तरण किया जाता है।

आर्टिकल का नामराशन कार्ड
संबंधित विभाग खाद्य नागरिक, आपूर्ति एवं उपभोक्ता मामले विभाग
वर्तमान वर्ष 2023
आवेदन माध्यम ऑनलाइन प्रक्रिया
राशन कार्ड के प्रकार एपीएल, बीपीएल और एएवाई
लाभार्थी देश के नागरिक
उद्देश्य नागरिकों को रियायती दरों पर खाद्यान्न उपलब्ध करवाना
आधिकारिक वेबसाइट nfsa.gov.in

एक देश एक राशन कार्ड योजना क्या है?

एक देश एक राशन कार्ड प्रणाली (One Nation, One Ration Card) भारत सरकार द्वारा कोविड-19 के दौरान हुए लॉकडाउन के कारण प्रवासी श्रमिकों को आजीविका चलाने में हो रही समस्या से निजात दिलाने के लिए शुरू की गई है, जिसकी घोषणा केंद्र खाद्य मंत्री और सार्वजनिक वित्तरण मंत्री रामविलास पासवान जी द्वारा की गई है।

यह प्रणाली देश के एनएफएसए से लाभान्वित होने वाले नागरिकों को खासकर प्रवासी नागरिकों को बायोमेट्रिक एवं आधार प्रमाणीकरण के साथ उनके राशन कार्ड के माध्यम से देश में किसी भी उचित मूल्य दुकान से खाद्यान्न प्राप्त करने की अनुमति देती है।

इस योजना के तहत देश के नागरिक जो अपने राज्य से किसी अन्य राज्य में रोजगार के लिए जाते हैं वह उस राज्य की पीडीएस दुकान से भी अपने हिस्से के राशन की सुविधा प्राप्त कर सकते हैं।

एक देश एक राशन कार्ड के अंतर्गत बायोमेट्रिक एवं आधार प्रमाणीकरण के जरिए नागरिकों का डाटा उपलब्ध होने से देश में फर्जी राशन कार्ड को रोकने में मदद मिलेगी साथ ही देश में भ्रष्टाचार को भी रोका जा सकेगा।

राशन कार्ड का उद्देश्य

सरकार द्वारा राशन कार्ड की सुविधा उपलब्ध करवाने का मुख्य उद्देश्य देश के जरूरतमंद एवं गरीबी रेखा से नीचे जीवन यापन कर रहे नागरिकों को कम कीमत पर खाद्य सामग्री का वित्तरण करना है।

इससे जहाँ आज भी देश में कई परिवार ऐसे हैं जिनकी आर्थिक स्थिति बेहद खराब होने के कारण वह अपने परिवार का भरण-पोषण नहीं कर पाते और उन्हें कई बार भुखमरी का भी सामना करना पड़ता है ऐसे परिवारों को सामाजिक एवं आर्थिक रूप से सशक्तिकरण के लिए सरकार राशन कार्ड के जरिए उन्हें परिवार के सदस्यों के आधार पर कम कीमत पर खाद्य सामग्री का वित्तरण करती है।

यह लाभ सभी राशन कार्ड धारकों को प्रतिमाह उनके क्षेत्र के पीडीएस दुकानों से प्रदान किया जाता है, जिसमे उन्हें गेंहू, दाल, चांवल, चीनी, कैरोसीन तेल आदि खाद्य सामग्री रियायती दरों पर प्रदान की जाती है।

इसके साथ ही राशन कार्ड संबंधी सेवाएं नागरिकों को आसानी से प्राप्त हो सके इसके लिए सरकार द्वारा ऑनलाइन पोर्टल की भी सुविधा उपलब्ध की गई है, जिसके माध्यम से नागरिक अब घर बैठे ही नए राशन कार्ड के लिए ऑनलाइन आवेदन के सतह कई सेवाओं का लाभ भी आसानी से उठा सकेंगे।

e-Ration Card Services क्या है?

देश के राज्य सरकार के खाद्य आपूर्ति विभाग द्वारा नागरिकों को उनकी श्रेणीवार राशन कार्ड जारी किया जाता है, राशन कार्ड की ऑनलाइन अपलोड की गई सेवाओं को ई-राशन कार्ड कहते हैं।

ऑनलाइन राशन कार्ड संबंधी जानकारी नागरिकों को प्रदान करने के लिएराष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा विभाग की और से ई-राशन कार्स सर्विसेज की सुविधा उपलब्ध की गई है, इससे नागरिक घर बैठे ही पोर्टल पर राशन कार्ड संबंधी सेवाएं जैसे ऑनलाइन आवेदन, राशन कार्ड स्टेटस, राशन कार्ड लिस्ट आदि प्राप्त कर सकेंगे।

राशन कार्ड के प्रकार

राशन कार्ड खाद्य विभाग द्वारा लाभार्थी नागरिकों को उनकी आय एवं आर्थिक स्थिति के आधार पर जारी किए जाते हैं, भारत में तीन प्रकार के राशन कार्ड नागरिकों को जारी किए जाते हैं जिसमे एपीएल, बीपीएल और एएवाई राशन कार्ड शामिल है, जिनकी जानकारी कुछ इस प्रकार है।

APL राशन कार्ड

APL यानी (Above Poverty Line) राशन कार्ड यह राशन कार्ड ऐसे परिवारों को जारी किए जाते हैं जो गरीबी रेखा से ऊपर जीवन यापन करते हैं, यानी जिनकी सालाना आय एक तय गरीबी रेखा से अधिक है।

एपीएल कार्ड पर कार्डधारक को 10 से 20 किलो राशन प्रतिमाह वित्तरण किया जाता है। राशन की कीमत राज्य सरकारों द्वारा तय किया जाता है इसलिए यह प्रत्येक राज्यों में अलग-अलग हो सकती है।

BPL राशन कार्ड

BPL यानी (Below Poverty Line) राशन कार्ड ऐसे परिवारों को जारी किए जाते हैं, जो गरीबी रेखा से नीचे जीवन यापन कर रहे हैं। यह कार्ड उन परिवारों को जारी किया जाता हैं जिनकी आय 10000 से कम है, बीपीएल कार्ड धारकों को सरकार द्वारा प्रतिमाह 25 किलो राशन दिया जाता है। राशन की कीमत अलग-अलग राज्यों अनुसार तय की गई होती है।

AAY राशन कार्ड

अंत्योदय राशन कार्ड उन परिवारों को जारी किए जाते हैं, जिनकी आर्थिक स्थिति बेहद ही कमजोर है या उनके पास आय का कोई साधन नहीं है, इसमें महिला, बुजुर्ग, बेरोजगार नागरिक इस श्रेणी में आते हैं।

अंत्योदय राशन कार्ड धारकों को प्रतिमाह 35 किलो राशन का वित्तरण किया जाता है, जिसमे उन्हें 3 रूपये प्रति किलो चांवल और 2 रूपये प्रति किलो गेहूं जारी किए जाते हैं।

भारत सरकार द्वारा एपीएल, बीपीएल और एएवाई राशन के आलावा भी दो और राशन कार्ड जारी किए जाते हैं। जिसमे एक है अन्नपूर्णा राशन कार्ड जो ऐसे गरीब एवं 65 वर्ष से अधिक आयु के बुजुर्गों को दिया जाता है, जिन्हे राज्य सरकारों द्वारा निर्दिष्ट योजना के अंतर्गत आते हैं। अन्नपूर्णा राशन कार्ड पर नागरिकों को प्रतिमाह 10 किलो राशन का वित्तरण किया जाता है।

वहीं दूसरा राशन कार्ड है प्राथमिकता राशन कार्ड यह राशन कार्ड राज्य सरकार द्वारा एनएफएसए के तहत राज्य सरकार लक्षित सार्वजनिक वित्तरण प्रणाली के तहत प्राथमिकता वाले घरेलू परिवारों की पहचान करती है।

प्राथमिकता राशन कार्ड पर सरकार नागरिकों को प्रतिमाह 5 किलो राशन प्रति यूनिट मिलता है, इसमें चांवल तीन रूपये प्रति किलो और गेंहू दो रूपये प्रति किलो की दर से दिया जाता है।

जाने राशन कार्ड के लाभ

  • राशन कार्ड के तहत देश के गरीब, आर्थिक रूप से कमजोर एवं मध्यम वर्ग नागरिकों को राज्य के खाद्य एवं आपूर्ति विभाग द्वारा कम दरों पर राशन की सुविधा प्रदान की जाएगी।
  • राशन कार्ड धारक प्रतिमाह खाद्य वित्तरण के तहत पीडीएस की दुकानों से खाद्यान्न जैसे चांवल, गेंहू, दाल, चीन आदि प्राप्त कर सकेंगे।
  • भारत सरकार के एक देश एक राशन कार्ड योजना के तहत अब नागरिक किसी भी राज्य में अपने राशन कार्ड के जरिए बायोमेट्रिक एवं आधार प्रमाणीकरण के आधार पर राशन की सुविधा प्राप्त कर सकेंगे।
  • इस योजना का लाभ खासतौर पर देश के प्रवासी श्रमिकों को प्राप्त हो सकेगा, जो अन्य राज्य में रोजगार के लिए जाते हैं।
  • ऑनलाइन ई-राशन कार्ड सर्विसेज की सुविधा उपलब्ध होने से नागरिक घर बैठे ही राशन कार्ड से संबंधित सभी जानकारी प्राप्त कर सकेंगे।
  • नागरिक ऑनलाइन राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा पोर्टल परराशन कार्ड के लिए ऑनलाइन आवेदन, आवेदन स्थिति देखने, राशन कार्ड लिस्ट की जांच आसानी से कर सकेंगे।
  • इससे नागरिकों के समय व पैसे दोनों की बचत हो सकेगी।
  • राशन कार्ड धाराक अपने राशन कार्ड का उपयोग अपने परिवार के सदस्यों की पहचान प्रमाण पत्र के रूप में कर सकेंगे।
  • बच्चों के स्कूल में एडमिशन या छात्रवृत्ति का लाभ प्राप्त करने के लिए भी राशन कार्ड की जरूरत होती है।
  • केंद्र एवं राज्य सरकार द्वारा संचालित विभिन्न सरकारी योजनाओं का लाभ लेने या प्रमाण पत्रों के आवेदन हेतु भी राशन कार्ड जरुरी होता है।

राशन कार्ड के लिए पात्रता

Ration Card के लिए आवेदन हेतु आवेदक को इसकी निर्धारित पात्रताओं को पूरा करना होगा, जिनकी जानकारी निम्नलिखित है।

  • राशन कार्ड के लिए आवेदन हेतु आवेदक भारतीय नागरिक होने आवश्यक है।
  • आवेदनकर्ता की आयु 18 वर्ष से अधिक होनी चाहिए।
  • राशन कार्ड के लिए केवल परिवार के मुखिया आवेदन हेतु पात्र होंगे।
  • नविवाहित नागरिक भी नए राशन कार्ड के लिए आवेदन कर सकते हैं।
  • यदि आवेदक का पहले से राशन कार्ड लिस्ट में नाम शामिल है तो वह नए राशन के लिए आवेदन हेतु पात्र नहीं होंगे।

Ration Card हेतु आवश्यक दस्तावेज

राशन कार्ड के लिए आवेदन हेतु आवेदक के पास कुछ महत्त्वपूर्ण दस्तावेज होने आवश्यक है, जिनके माध्यम से वह आवेदन की प्रक्रिया को पूरा कर सकेंगे, ऐसे सभी महत्त्वपूर्ण दस्तावेजों की जानकारी कुछ इस प्रकार है।

  • आवेदक का आधार कार्ड
  • वोटर आईडी कार्ड
  • पानी या बिजली का बिल
  • परिवार के सभी सदस्यों का आधार कार्ड
  • आय प्रमाण पत्र
  • बैंक पासबुक
  • सभी सदस्यों की पासपोर्ट साइज फोटो

राशन कार्ड ऑनलाइन आवेदन कैसे करें?

जो नागरिक राशन कार्ड के लिए ऑनलाइन आवेदन करना चाहते हैं, वह यहाँ बताए गए स्टेप्स को पढ़कर ऑनलाइन आवेदन की प्रक्रिया को पूरा कर सकेंगे।

  • इसके लिए सबसे पहले आवेदक खाद्य विभाग की ऑफिसियल वेबसाइट पर विजिट करें। NFSA official website
  • अब आपकी स्क्रीन पर वेबसाइट का होम पेज खुलकर आ जाएगा।
  • यहाँ होम पेज पर आपको Ration Cards के लिंक पर क्लिक करना होगा।
  • अब आपको दो विकल्प दिखाई देंगे, Ration Card Details on State Portals पर क्लिक करना होगा।
  • इसके बाद आपको अपने राज्य के नाम पर क्लिक करके अपने राज्य की खाद्य विभाग की ऑफिसियल वेबसाइट पर आ जाएंगे।
  • यहाँ आपको अपने यूजरनेम और पासवर्ड को दर्ज करके लॉगिन करना होगा।
  • यदि आपने पहले से पंजीकरण नहीं किया है तो आपको पहले रजिस्ट्रेशन करके लॉगिन करना होगा।
  • अब आपको नए राशन कार्ड के लिए आवेदन के लिंक पर क्लिक करना होगा।
  • जिसके बाद आपकी स्क्रीन पर एक फॉर्म खुलकर आ जाएगा, यहाँ आपको अपने और परिवार की संपूर्ण जानकारी जैसे आपका नाम, आधार संख्या, आयु आदि दर्ज करनी होगी।
  • सारी जानकारी भरकर आपको फॉर्म को सबमिट कर देना होगा।
  • इसके बाद अगले पेज में आपको फॉर्म में मांगे गए सभी दस्तावेजों के साथ पासपोर्ट साइज फोटो अपलोड करनी होगी।
  • अब आपको ऑनलाइन एक रसीद या रेफ़्रेन्स नंबर मिल जाएगा, जिसे आप अपने पास सुरक्षित रख लें।
  • इस तरह आपके राशन कार्ड के लिए ऑनलाइन आवेदन की प्रक्रिया पूरी हो जाएगी।
  • आवेदक ध्यान दें कुछ राज्यों में ऑनलाइन आवेदन की सुविधा उपलब्ध तो की गई होती है लेकिन ऑनलाइन अप्लाई के बाद आपको अपने नजदीकी राशन दफ्तर जाकर फॉर्म भरना होता है और ओरिजिनल दस्तावेज दिखाने होते हैं।
  • अब आवेदन फॉर्म को निकटम राशन कार्ड कार्यालय में जमा करा दें और निर्धारित शुल्क का भुगतान करें।
  • जिसके बाद अधिकारीयों द्वारा आपके आवेदन पत्र की जाँच की जाएगी, आवेदन पत्र के सत्यापन के बाद राशन कार्ड आपके पते पर भेज दिया जाएगा।

इसे भी पढ़ें – राशन कार्ड को आधार कार्ड से लिंक करें

राशन कार्ड के लिए ऑफलाइन आवेदन प्रक्रिया

जो नागरिक ऑनलाइन माध्यम से राशन कार्ड के लिए आवेदन नहीं करना चाहते हैं वह ऑफलाइन माध्यम से भी राशन कार्ड के लिए आवेदन की प्रक्रिया को पूरा कर सकते हैं, इसके लिए आप यहाँ बताए गए स्टेप्स को फॉलो करें।

  • इसके लिए आवेदक सबसे पहले अपने क्षेत्र के सर्किल ऑफिस में सभी दस्तावेजों को साथ लेकर जाएं।
  • अब कार्यालय से आपको राशन कार्ड आवेदन फॉर्म प्राप्त करना होगा।
  • आवेदन फॉर्म प्राप्त करके आपको इसमें पूछी गई सभी जानकारी सही से भरनी होगी।
  • सारी जानकारी भरकर फॉर्म में मांगे गए सभी दस्तावेजों को अटैच कर दें।
  • अब आखिर में फॉर्म की अच्छे से जांच करके आपको आपको इसे दफ्तर जमा करना होगा।
  • फॉर्म जमा करने के बाद आपको इसे दफ्तर में जमा कर देना होगा।
  • जिसके बाद फॉर्म की सफलतापूर्वक जांच हो जाने के बाद 15 दिन पश्चात आपका राशन कार्ड बनकर तैयार हो जाएगा।

राशन कार्ड बना है या नहीं ऐसे करें चेक

देश के नागरिक जिन्होंने राशन कार्ड के लिए आवेदन किया है उनका राशन कार्ड बना है या नहीं यह चेक करने के लिए वह यहाँ बताए गए स्टेप्स को फॉलो कर सकते हैं।

  • राशन कार्ड डिटेल्स चेक करने के लिए आवेदक सबसे पहले NFSA की ऑफिसियल वेबसाइट पर जाएं।
  • अब आपकी स्क्रीन पर वेबसाइट का होम पेज खुलकर आ जाएगा।
  • यहाँ होम पेज पर आपको मेन्यू में Ration Card के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • अब नीचे आपको Ration Cards Details on State Portal के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा।
  • इसके बाद अगले पेज में आपको राज्यों की लिस्ट दिखाई देगी, यहाँ आप अपने राज्य का चयन करें।
  • राज्य का चयन करके आप अपने जिले का चयन करें।
  • जिले के नाम का चयन करके आपको जिले के अंतर्गत आने वाले विकासखंड/ब्लॉक/तहसील का नाम दिखाई देगा, यहाँ आपको अपने ब्लॉक के नाम का चयन करना होगा।
  • इसके बाद आपके सामने राशन कार्ड दुकानों की लिस्ट खुलकर आ जाएगी, यहाँ आपको अपने दुकान मिल जाने के बाद उसके आगे दिए गए राशन कार्ड के प्रकार का चयन करना होगा।
  • अब आपकी स्क्रीन पर उस राशन की दुकान के अंतर्गत जितने भी राशन कार्ड बने हैं उनकी लिस्ट खुलकर आ जाएगी, यहाँ आप लिस्ट में अपना नाम चेक कर सकेंगे।
  • यहाँ लिस्ट में यदि आपको अपना नाम मिल जाता है तो आपका राशन कार्ड बनकर तैयार हो चुका है और यदि नहीं आता यो आपको कुछ दिन इंतजार करना होगा।

राज्यानुसार राशन कार्ड की जानकारी

Uttar Pradesh Andhra PradeshHaryana
MaharashtraOdishaDelhi
BiharTelangana Ration CardJ&K
West BengalKeralaUttarakhand
Madhya Pradesh Ration CardJharkhandArunachal Pradesh
Tamil NaduAssamTripura
Karnataka PunjabMeghalaya
GujaratChhattisgarhManipur
Arunachal PradeshGoaArunanchal Pradesh
PuducherryMizoramChandigarh
Sikkim

राशन कार्ड से जुड़े प्रश्न/उत्तर

राशन कार्ड क्यों जरुरी है?

राशन कार्ड एक आधिकारिक दस्तावेज है जिसके जरिए देश के गरीब एवं आर्थिक रूप कमजोर नागरिकों को सरकार सार्वजनिक वित्तरण प्रणाली के तहत खाद्यान्न का वित्तरण कम कीमत पर करती है साथ ही राशन कार्ड के जरिए नागरिक कई सरकारी सेवाओं का भी लाभ ले सकेंगे।

Ration Card कितने प्रकार के होते हैं?

Ration Card तीन प्रकार के होते हैं जिनमे एपीएल, बीपीएल और एएवाई श्रेणी शामिल है।

राशन कार्ड हेतु ऑनलाइन आवेदन के लिए इसकी ऑफिसियल वेबसाइट क्या है?

राशन कार्ड हेतु ऑनलाइन आवेदन के लिए आवेदक NFSA की ऑफिसियल वेबसाइट nfsa.gov.in पर या आप अपने राज्य के खाद्य आपूर्ति विभाग की वेबसाइट पर भी आवेदन कर सकते हैं।

यदि मेरा नाम राशन कार्ड लिस्ट में नहीं आता है तो क्या करना होगा?

अगर अपने राशन कार्ड के लिए आवेदन किया है और आपका नाम राशन कार्ड लिस्ट में नहीं आता है तो आप दोबारा भी राशन कार्ड के लिए आवेदन कर सकते हैं।

Related Post

error: Content is protected !!