MMID क्या है?, जानें MMID प्राप्त करने की प्रक्रिया

MMID: आज की डिजिटल दुनिया में कई कागजी कार्य घर बैठे इंटरनेट की मदद से मोबाइल द्वारा पूरे किए जा सकते हैं, इसके लिए देश में पैसों की लेनदेन के लिए भी नागरिकों को कई बैंकिंग सेवाएं ऑनलाइन उपलब्ध की गई हैं, जिससे कुछ ही मिनटों में ट्रांजेक्शन के अलावा बैंक अकाउंट की जानकारी भी

Photo of author

Reported by Shiv Nagar

Published on

JOIN US ON TELEGRAM Join Now
JOIN US ON WHATSAPP Join Now

MMID: आज की डिजिटल दुनिया में कई कागजी कार्य घर बैठे इंटरनेट की मदद से मोबाइल द्वारा पूरे किए जा सकते हैं, इसके लिए देश में पैसों की लेनदेन के लिए भी नागरिकों को कई बैंकिंग सेवाएं ऑनलाइन उपलब्ध की गई हैं, जिससे कुछ ही मिनटों में ट्रांजेक्शन के अलावा बैंक अकाउंट की जानकारी भी ऑनलाइन प्राप्त की जा सकती है।

ऐसे में किसी भी ऑनलाइन भुगतान ऐप का उपयोग करने के लिए हमे बैंक डिटेल्स की आवश्यकता होती है, लेकिन MMID जिसका पूरा नाम Mobile Money Identifier है इसकी मदद से आप एक खाते से दूसरे बैंक खाते में बिना बैंक डिटेल्स के आसानी से पैसे ट्रांसफर कर सकते हैं।

ऐसे में एमएमआईडी क्या है? MMID प्राप्त करने की प्रकिया और यह आपके लिए क्यों आवश्यक है, इससे संबंधित सभी जानकारी आप हमारे लेख के माध्यम से प्राप्त कर सकेंगे।

MMID know what is MMID and how to get it
what is MMID and how to get it?

MMID, IMPS क्या है?

Mobile Money Identifier (MMID) यह 7 अंकों की एक विशिष्ट संख्या है, जिसके शुरू के 4 अंक बैंक के यूनीक आइडेंटिफिकेशन नंबर है जबकि लास्ट के तीन अंक लाभार्थी के मोबाइल नंबर होते हैं, जो मोबाइल यूजर्स को तत्काल भुगतान सेवा (IMPS) के लिए अनुमति देता है। इसका उपयोग एक खाते से दूसरे खाते में पैसे ट्रांसफर करने के लिए करे हैं, इसके लिए ग्राहक अपने रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर के माध्यम से या उसमे एसएमएस के जरिए आईएमपीएस से भुगतान कर सकेंगे। आपको बता दें किसी भी बैंक का केवल एक ही मोबाइल मनी आइडेंटीफायर कोड होता है, सभी बैंक अकाउंट मे अलग-अलग MMID होता है, एक ही मोबाइल नंबर को विभिन्न एमएमआईडी से जोड़ा जा सकता है।

आर्टिकल का नाम Mobile Money Identifier (MMID)
श्रेणी मनी ट्रांसफर सर्विस
वर्तमान वर्ष 2023
माध्यम ऑनलाइन
लाभार्थी सभी भरतीय नागरिक
उद्देश्य बिना बैंकिंग डिटेल के पैसे ट्रांसफर
करने और प्राप्त करने की सुविधा देना

जाने एमएमआईडी की विशेषताएं

  • एमएमआईडी जो 7 अंकों की एक विशिष्ट संख्या है, इसका प्रयोग एक खाते से दूसरे खाते में बिना बैंक डिटेल्स के पैसे ट्रांसफर करने के लिए किया जा सकता है।
  • इसके शुरू के 4 अंक बैंक के यूनीक आइडेंटिफिकेशन नंबर है जबकि लास्ट के तीन अंक लाभार्थिक के मोबाइल नंबर के होते हैं।
  • MMID के माध्यम से ग्राहक आसानी से तत्काल भुगतान सेवा IMPS का लाभ ले सकते हैं।
  • फंड ट्रांसफर करने के लिए एएमएमआईडी को खाताधारक के मोबाइल नंबर से जोड़ा जा सकता है।
  • प्रत्येक खाताधारक को एक एमएमआईडी प्राप्त होता है, जो उसे अपने विशेष बैंक खाते की पहचान करने की अनुमति देता है।

Also read: Post Office Internet Banking

एमएमआईडी प्राप्त करने की प्रक्रिया

एमएमआईडी का प्रयोग करने के लिए ग्राहक का बैंक अकाउंट होना आवश्यक है, जिसमे वह इंटरनेट बैंकिंग या मोबाइल बैंकिंग का इस्तेमाल है, इसके लिए आपका रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर आपके बैंक के साथ लिंक होना चाहिए, यदि ऐसा नहीं होता तो आप इस सेवा का लाभ उठाने के लिए बैंक शाखा में जाकर इसे लिंक करवा सकते हैं।

एमएमआईडी प्राप्त करने के लिए जैसा की आपको पता है की हर बैंक का अपना एक एमएमआईडी कोड होता है, जो बैंक द्वारा ग्राहकों को खुद से नही दिया जाता है, इसके लिए आपको इसे खुद बैंक जाकर अधिकारी से एमएमआईडी मांगनी होती है, तब जाकर आपको मोबाइल मनी आइडेंटीफायर कोड मिलता है।

वैसे एमएमआईडी को मोबाइल बैंकिंग किट के साथ भी दिया जाता है, हालांकि इसके लिए आपके फ़ोन में नेट बैंकिंग एप्लीकेशन एक्टिवेट होना जरुरी है। ऐसे में आपके पास मोबाइल बैंकिंग के जरिए पैसे ट्रांसफर करने के लिए मोबाइल बैंकिंग पर्सनल आइडेंटिफिकेशन नंबर (MPIN) होना जरुरी है, इसके लिए आप नेट बैंकिंग में रजिस्टर होने चाहिए।

मोबाइल मनी आइडेंटीफाइयर क्यों है आवश्यक

एमएमआईडी मनी आइडेंटीफायर के बारे में कई लोगों को जानकारी नहीं होती, जिसके चलते मनी ट्रांसफर के लिए ग्राहक NEFT (National Electronic Fund Transfer) या RTGS (Real Time Gross Settlement) को एक बेहतर विकल्प मानते हैं, इसके लिए बैंक अकाउंट नंबर और आईएफएससी कोड का उपयोग करके आप किसी भी खाते में पैसे ट्रांसफर कर सकते हैं, लेकिन यह सेवा केबल बैंक खुले रहने पर ही ग्राहकों को प्राप्त हो पाती है।

जिसके चलते बैंक की और से IMPS यानी तत्काल भुगतान सेवा को ग्राहकों के लिए इस उद्देश्य से शुरू किया गया ताकि एक मोबाइल नंबर एक से ज्यादा व्यक्तियों के पास नहीं हो सकता है, ना ही वह एक्टिव नंबर किसी दूसरे यूजर को मिल सकेगा क्योंकि मोबाइल नंबर हर व्यक्ति के खाते से जुड़ा हुआ होता है, बैंक के खाता संख्या की जानकारी के बिना भी मोबाइल नंबर के जरिए पैसे ट्रांसफर करना ग्राहकों के लिए आसान हो पाया है।

बैंक खाते से मोबाइल लिंक के जरिए पैसे ट्रांसफर करने की सुविधा से अब हम घर बैठे ही आसानी से लेनदेन कर सकते हैं, लेकिन इस सिस्टम से एक परेशानी ग्राहकों को यह भी होनी शुरू हुई की यदि किसी व्यक्ति के पास एक से अधिक बैंक अकाउंट है और वह उसने एक ही फोन नंबर से दोनों अकाउंट को जोड़ दिया गई तो इससे सिस्टम को आपके सटीक अकाउंट नंबर की पहचान कैसे करेगा?

इस समस्या को दूर करने के लिए एमएमआईडी को उपयोग में लाया गया, जहाँ हर बैंक का अपना एक एमएमआईडी कोड होता है, इसका प्रयोग केवल एक ही बैंक अकाउंट में कर सकते हैं, ऐसे में यदि आपके पास दो बक अकाउंट हैं तो उन दोनों के लिए एक जैसा मोबाइल मनी आइडेंटीफायर नहीं हो सकता है।

Also Read- कौन से बैंक महिलाओं को दे रहे बिज़नेस लोन?

MMID जनरेट कैसे करें?

यदि आप एमएमआईडी जनरेट करना चाहते हैं तो इसे जनरेट करने के लिए आपको यहाँ कई तरीके बताए गए हैं, जिनके जारी आप आसानी MMID जनरेट कर सकते हैं।

  • मोबाइल मनी आइडेंटिफायर जनरेट के लिए आप गूगल प्ले स्टोर से मोबाइल बैंकिंग एप्लीकेशन डाउनलोड करके ऐप में खुद को रजिस्टर करें जिसके बाद आप MMID जनरेट कर सकेंगे।
  • अगर आप बैंक की ब्रांच में रजिस्टर करके MMID जेनरेट करना चाहते हैं तो आप अपने बैंक की होम ब्रांच में जाकर पंजीकरण करना होगा, जिसके बाद आपके एड्रेस पर MMID और mPIN भेज दिया जाएगा।
  • आप चाहें तो उसी बैंक के किसी भी एटीएम में जाकर भी MMID कोड जनरेट कर सकते हैं, इसके लिए आपको एटीएम में जाकर मोबाइल बैंकिंग के ऑप्शन पर जाना है और फिर आपके पास एक कन्फर्मेशन का मैसेज आ जाएगा, इसके बाद आप मोबाइल बैंकिंग पर्सनल आइडेंटिफिकेशन नंबर और मोबाइल मनी आइडेंटीफायर प्राप्त कर सकेंगे।
  • MMID कोड जनरेट करने के लिए आप इंटरनेट बैंकिंग का भी इस्तेमाल कर सकते हैं, इंटरनेट बैंकिंग के जरिए आप अपने बैंक अकाउंट के लिए अपने फ़ोन में आसानी से मोबाइल बैंकिग जनरेट कर सकेंगे।

IMPS का पूरा नाम क्या है?

IMPS का पूरा नाम Immediate Payment Service और हिंदी में तत्कालीन भुगतान सेवा है।

एमएमआईडी की आवश्यकता क्यों होती है?

आप जब भी तत्कालीन भुगतान सेवा का उपयोग पैसे ट्रांसफर करने के लिए करते हैं, तो यदि आपके एक से अधिक खाते आके एक मोबाइल से लिंक है तो इसकी पहचान के लिए आपको एमएमआईडी की आवश्यकता होती है।

About the author

Shiv Nagar

Leave a Comment