JOIN US ON TELEGRAM Join Now
JOIN US ON WHATSAPP Join Now

कुसुम योजना में क्या क्या मिलता है? ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन, PM Kusum Yojana पात्रता व लाभ

कुसुम योजना 2024: भारत देश एक कृषि प्रधान देश हैं, ऐसे मे देश के कृषि क्षेत्र से जुड़े किसानों को कृषि में बढ़ावा देने के लिए केंद्र सरकार अन्य राज्य सरकारों के साथ मिलकर समय-समय कई प्रयास करती रहती है। ऐसी ही एक योजना की शुरुआत केंद्र एवं राजस्थान सरकार द्वारा कुसुम योजना के नाम से किसानों को पेट्रोल एवं डीजल से चलने वाले सिंचाई पंपों के बदले सोलर पंप से सिंचाई से शुरू करने में सहयोग देने के लिए की गई है। इससे बहुत से किसान जिनके पास खेतों में सिंचाई के लिए साधनों की कमी होती है, जिसके कारण कई बार उनकी फैसले सूखे के चलते खराब हो जाती है वह सभी किसान PM Kusum Yojana के तहत सोलर पैनल पर पर सब्सिडी का लाभ प्राप्त कर खेती कर सकेंगे।

ऐसे में राज्य के जो किसान खेतों में सिंचाई के लिए सोलर पैनल की खरीद करना चाहते हैं तो कुसुम योजना का लाभ लेने के लिए आप इसकी ऑफिसियल वेबसाइट पर आवेदन की प्रक्रिया को पूरा कर सकते हैं, प्रत्येक राज्य के किसान अपने राज्य की कुसुम योजना की वेबसाइट पर आवेदन कर सकेंगे। इस लेख के माध्यम से हम आपको कुसुम योजना क्या है? योजना के लाभ, पात्रता, जरुरी दस्तावेज एवं आवेदन प्रक्रिया से संबंधित संपूर्ण जानकारी प्रदान करेंगे, जिसके लिए आप लेख को पूरा अवश्य पढ़े।

कुसुम योजना में क्या क्या मिलता है? ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन, PM Kusum Yojana पात्रता व लाभ
PM Kusum Yojana Online Registration

Table of Contents

कुसुम योजना 2024

कुसुम योजना की शुरुआत वर्ष 2019 में पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली जी द्वारा की थी, जिसके बाद इस योजना को 2020-21 में योजना वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण जी द्वारा इसे दोबारा लांच किया गया। पीएम कुसुम योजना के अंतर्गत सरकार द्वारा 10 हजार करोड़ रूपये का बजट निर्धारित किया गया है, जिसकी अवधि 10 वर्ष की रखी गई है। इस योजना के माध्यम से सरकार ऐसे किसान जिनके पास सिंचाई के लिए पंप और अन्य उपकरण खरीदने के प्रयाप्त धन ही है उन्हें 90% तक की सब्सिडी का लाभ प्रदान करती है, जिसमे केंद्र सरकार की तरफ से 60% और राज्य सरकार की तरफ से 30% तक का अनुदान दिया जाता है और किसान को इसमें केवल 10% का भुगतान खुद से करना होता है। पीएम कुसुम योजना के अंतर्गत वर्ष 2024 तक सरकार ऊर्जा से चलने वाले कुल 17.50 लाख सिंचाई पंप लगवाएगी।

इस योजना के माध्यम से सोलर पंप की खरीद पर सरकार द्वारा 48 हजार करोड़ रुपये का योगदान किया जा रहा है, इससे अधिक से अधिक किसान योजना का लाभ ले सकेंगे। सोलर पंप के जरिए सिंचाई करने पर किसान उससे बनने वाली अतिरिक्त बिजली ग्रिड सिस्टम के जरिए विभागों को बेच सकते हैं और साल में हर महीने लगभग 6000 रूपये तक की कमाई कर सकते हैं। इसके लिए राज्य के जो किसान योजना का लाभ लेना चाहते हैं वह घर बैठे ही योजना में आवेदन कर सोलर पंप पर सब्सिडी प्राप्त कर सकेंगे।

योजना का नाम पीएम कुसुम योजना
राज्य राजस्थान
लांच की गई पूर्व वित्तमंत्री अरुण जेटली जी द्वारा
संबंधित मंत्रालय कृषि एवं ऊर्जा मंत्रालय
वर्तमान वर्ष 2024
माध्यम ऑनलाइन प्रक्रिया
श्रेणी केंद्र सरकारी योजना
लाभार्थी राज्य के किसान
उद्देश्य किसानों को सिंचाई के लिए सोलर पैनल उपलब्ध करवाना
आधिकारिक वेबसाइट http://rreclmis.energy.rajasthan.gov.in/

कुसुम योजना का उद्देश्य

पीएम कुसुम योजना केंद्र सरकार द्वारा देश के किसानों को कृषि में बढ़ावा देने के उद्देश्य से शुरू की गई एक कल्याणकारी योजना है, जिसके तहत सरकार किसानों को सौर ऊर्जा से चलने वाले सोलर पंप के उपयोग को बढ़ावा देने के लिए सब्सिडी का लाभ प्रदान करेगी। इससे जहाँ खेती में सिंचाई के लिए किसानों को बिजली या डीजल से चलने वाले पंप पर अधिक खर्चा करना पड़ता था वहीं अब वह सोलर पैनल का उपयोग करके खेती कर सकेंगे साथ ही खेती में सिंचाई के लिए सोलर पंप से अधिक बिजली बनने पर किसान सरकारी या गैर सरकारी विद्युत् विभाग को बिजली बेचकर लाभ प्राप्त कर सकेंगे।

इस योजना का लाभ मिलने से राज्य के किसान जिनकी आर्थिक स्थिति बेहतर नहीं होने के कारण वह खेतों में सिंचाई नहीं कर पाते जिससे कई बार उनकी फैसले खराब हो जाती है और इससे कई किसान आत्महत्या जैसा गलत कदम भी उठा लेते हैं, वह सभी योजना के तहत मिलने वाली सब्सिडी का लाभ प्राप्त करके सोलर पंप खरीद सकेंगे और सिंचाई के जरिए खेती में बेहतर लाभ प्राप्त कर सकेंगे।

PM Kusum Yojana के लाभ एवं विशेषताएँ

पीएम कुसुम योजना के तहत नागरिकों को मिलने वाले लाभ एवं सुविधाओं की जानकारी निम्नलिखित है।

  • कुसुम योजना की शुरुआत सरकार द्वारा किसानों को सिंचाई में सोलर पंप की खरीद पर सब्सिडी का लाभ प्रदान करने के लिए दी गई है।
  • योजना के माध्यम से आर्थिक रूप से कमजोर किसान बिजली या डीजल पंप के बजाय सौर ऊर्जा से चलने वाले पंप से सिंचाई कर सकेंगे।
  • केंद्र एवं राज्य सरकारों द्वारा मिलकर किसानों को 90% तक की सब्सिडी सोलर पैनल की खरीद पर दी जाएगी।
  • आवेदक किसान को सोलर पैनल पर केवल 10% तक का भुगतान करना होगा।
  • इस योजना के अंतर्गत लगभग 20 लाख किसानों को सोलर पैनल की सुविधा दी जाएगी तथा 15 लाख किसानों को ग्रिड से जुड़े सोलर पंप लगाने के लिए धन मुहैया करवाया जाएगा।
  • योजना के तहत 5 एकड़ भूमि में 1 मेगावाट का सोलर पैनल लगाया जाएगा।
  • राज्य के किसान सोलर पैनल लगवाने के लिए ऑनलाइन कुसुम योजना की ऑफिसियल वेबसाइट पर आवेदन कर सकेंगे, इससे उनके समय व पैसे दोनों की बचत हो सकेगी।
  • इस योजना में सरकार बैंक से 45 हजार करोड़ का लोन लेगी व केंद्र सरकार 48 हजार करोड़ रूपये का योगदान करेगी, जिसमे राज्य सरकार द्वारा भी इतना ही योगदान किया जाएगा।
  • सोलर पैनल के जरिए किसानों को सिंचाई करने में फ्री बिजली मिल सकेगी, जिसे वह विभाग को बेच भी सकेंगे।
  • एक मेगावाट कैपेसिटी का सोलर पैनल पूरे साल 11 लाख यूनिट बिजली पैदा करेगा।
  • योजना के तहत लगाए जाने वाले सोलर पैनल पर किसान हर बिजली बेचकर 6000 रूपये यानी साल के 80000 रूपये तक का लाभ प्राप्त कर सकेंगे।
  • इस योजना के तहत सरकार द्वारा वर्ष 2023 तक कुल तीन करोड़ पंपों को बिजली और डीजल से चलने वाले पंपों की जगह ऊर्जा का उपयोग करके का लक्ष्य रखा गया है।
  • कुसुम योजना के तहत सरकार द्वारा किसानों को 17.5 लाख सौर पंप प्रदान किए जाएंगे।
  • सोलर पंपों के उपयोग से किसान बिना किसी समस्या के अपने खेतों की सिंचाई कर सकेंगे।
  • इस योजना का लाभ प्राप्त कर बहुत से किसान जिनके पास सिंचाई उपकरण नहीं होने के कारण उनकी फसलें सूखे की वजह से खराब हो जाती थी वह अब सब्सिडी का लाभ प्राप्त कर सिंचाई पंप खरीद सकेंगे और कहते कर सकेंगे।
  • इससे देश के किसानों की आर्थिक स्थिति में सुधार होगा और उनकी आय में भी वृद्धि हो सकेगी।

पीएम कुसुम योजना आवेदन हेतु पात्रता

कुसुम योजना में आवेदन के लिए आवेदक को इसकी कुछ निर्धारित पात्रताओं को पूरा करना होगा, ऐसी सभी पात्रताओं की जानकारी निम्नलिखित है।

  • योजना में आवेदन के लिए आवेदक राजस्थान के स्थाई निवासी होने चाहिए।
  • आवेदनकर्ता व्यक्ति किसान होने आवश्यक है।
  • जिन आवेदक किसानों के पास भूमि के दस्तावेज होंगे वही योजना में आवेदन हेतु पात्र माने जाएंगे।
  • आवेदक किसान का बैंक में अकाउंट होना आवश्यक है।

कुसुम योजना हेतु जरुरी दस्तावेज

पीएम कुसुम योजना में आवेदन के लिए आवेदक को कुछ महत्त्वपूर्ण दस्तावेजों की आवश्यकता होगी, जिनके माध्यम से वह आवेदन की प्रक्रिया को पूरा कर सकेंगे, ऐसे सभी दस्तावेजों की जानकारी निम्नलिखित है।

  • आवेदक का आधारकार्ड
  • एड्रेस प्रूफ
  • आय प्रमाण पत्र
  • बैंक की पासबुक
  • मोबाइल नंबर
  • पासपोर्ट साइज फोटो

पीएम कुसुम योजना ऑनलाइन आवेदन

पीएम कुसुम योजना में आवेदन के लिए प्रत्येक राज्य सरकारों द्वारा ऑनलाइन पोर्टल लांच किया गया है, जिसके तहत सभी राज्यों की योजना में ऑनलाइन आवेदन की प्रक्रिया अलग-अलग हो सकती है।

हरियाणा कुसुम योजना ऑनलाइन पंजीकरण

राज्य के जो इच्छुक आवेदक कुसुम योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए इसमें ऑनलाइन आवेदन करना चाहते हैं, वह ऑनलाइन आवेदन की प्रक्रिया यहाँ बताए गए स्टेप्स को पढ़कर जान सकेंगे।

  • योजना में आवेदन के लिए आवेदक सबसे पहले हरियाणा पोर्टल की ऑफिसियल वेबसाइट पर विजिट करें।
  • अब आपकी स्क्रीन पर वेबसाइट का होम पेज खुलकर आ जाएगा।
  • यहाँ होम पेज पर आपको लॉगिन बॉक्स में लॉगिन आईडी, पासवर्ड और दिए गए कैप्चा कोड को भरकर लॉगिन करें। pm kusum yojana login
  • इसके बाद आपको View All Available Services के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • अब आप Solar Water Pumping Scheme में जाएं और Proceed to Apply के ऑप्शन पर क्लिक कर दें।
  • अब आपको फॉर्म में पूछी गई सभी जानकारी ध्यानपूर्वक भरनी होगी।
  • सारी जानकारी भरने के बाद आप फॉर्म में मांगे गए सभी दस्तावेजों की स्कैन कॉपी को अपलोड करके सबमिट कर दें।
  • इस तरह आपके हरियाणा पीएम कुसुम योजना में ऑनलाइन आवेदन की प्रक्रिया पूरी हो जाएगी।

राजस्थान कुसुम योजना ऑनलाइन आवेदन प्रक्रिया

  • राजस्थान कुसुम योजना में आवेदन के लिए आवेदक सबसे पहले कुसुम योजना की ऑफिसियल वेबसाइट पर जाएं।
  • अब होम पेज पर आपको कुसुम योजना के लिए ऑनलाइन आवेदन करें के लिंक पर क्लिक करना होगा। Rajasthan kusum yojana registration
  • कुसुम योजना पर क्लिक करने के बाद आपकी स्क्रीन पर पंजीकरण फॉर्म खुलकर आ जाएगा। rajasthan pm kusum yojana apply
  • यहाँ आपको फॉर्म में पूछी गई सभी जानकारी जैसे आपका नाम, स्थाई पता, आधार नंबर, पासबुक नंबर, मोबाइल नंबर आदि सही से भरनी होगी।
  • फॉर्म में सभी जानकारी भरने के बाद आप नीचे सबमिट के बटन पर क्लिक कर दें।
  • इस तरह आपके योजना में पंजीकरण की प्रक्रिया पूरी हो जाएगी।
  • पंजीकरण के बाद आपको सौर पंप की 10% लागत विभाग द्वारा आपूर्तिकर्ताओं को जमा करने के लिए निर्देशित किया जाएगा।

उत्तर प्रदेश कुसुम योजना हेतु आवेदन प्रक्रिया

  • उत्तर प्रदेश कुसुम योजना ऑनलाइन आवेदन के लिए आवेदक सबसे पहले इसकी ऑफिसियल वेबसाइट पर विजिट करें।
  • अब आपकी स्क्रीन पर वेबसाइट का होम पेज खुलकर आ जाएगा, यहाँ आप program के विकल्प पर क्लिक कर दें।
  • इसके बाद आपको सोलर एनर्जी प्रोग्राम के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • अब नए पेज में कुसुम योजना के विकल्प पर क्लिक कर दें।
  • जिसके बाद आपको पंजीकरण के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा।
  • अब आपकी स्क्रीन पर रजिस्ट्रेशन फॉर्म खुलकर आ जाएगा।
  • यहाँ आपको फॉर्म में पूछी गई सभी महत्त्वपूर्ण जानकारी सही से भरनी होगी।
  • सारी जानकारी भरकर आप फॉर्म में मांगे गए सभी दस्तावेजों को अपलोड कर दें।
  • अब आखिर में आपको रजिस्टर के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • जिसके बाद आपके उत्तर प्रदेश ऑनलाइन आवेदन की प्रक्रिया पूरी हो जाएगी।

महाराष्ट्र कुसुम योजना आवेदन प्रक्रिया

  • महाराष्ट्र कुसुम योजना के अंर्गत ऑनलाइन आवेदन के लिए आवेदक सबसे पहले इसकी ऑफिसियल वेबसाइट पर जाएं।
  • अब आपको होम पेज पर Apply for Kusum Yojana के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • इसके बाद आपकी स्क्रीन पर योजना का आवेदन फॉर्म खुलकर आ जाएगा।
  • यहाँ आपको फॉर्म में पूछी गई सभी महत्त्वपूर्ण जानकारी सही से भरने होगी।
  • सारी जानकारी भरकर आप फॉर्म में मांगे गए सभी दस्तावेजों को अपलोड कर दें।
  • अब आखिर में नीचे सबमिट के बटन पर क्लिक कर दें।
  • इस तरह आपके महाराष्ट्र कुसुम योजना में ऑनलाइन आवेदन की प्रक्रिया पूरी हो जाएगी।

एमपी कुसुम योजना हेतु ऑनलाइन आवेदन

  • मध्य प्रदेश कुसुम योजना में ऑनलाइन आवेदन के लिए आवेदक सबसे पहले इसकी आधिकारिक वेबसाइट पर जाएं।
  • अब होम पेज पर आपको ऑनलाइन आवेदन का विकल्प मिलेगा, जिसपर आपको क्लिक करना होगा।
  • इसके बाद आप नए पेज में आवेदन फॉर्म में मांगी गई सभी जानकारी सही से भरें।
  • अब सारी जानकारी भरकर फॉर्म में मांगे गए सभी दस्तावेजों को अपलोड कर दें।
  • इसके बाद आखिर में सबमिट के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा।
  • इस तरह आपके आवेदन की प्रक्रिया पूरी हो जाएगी।

पंजाब कुसुम योजना ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन

  • पंजाब कुसुम योजना में ऑनलाइन आवेदन के लिए आवेदक सबसे पहले कुसुम योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाएं।
  • अब होम पेज पर आपको सोलर पंप रजिस्ट्रेशन का विकल्प मिलेगा, जिसपर आपको क्लिक करना होगा।
  • इसके बाद आप नए पेज में आवेदन फॉर्म में मांगी गई सभी जानकारी सही से भरें।
  • अब सारी जानकारी भरकर फॉर्म में मांगे गए सभी दस्तावेजों को अपलोड कर दें।
  • इसके बाद फॉर्म की अच्छे से जांच करके आखिर में सबमिट के बटन पर क्लिक कर दें।
  • इस तरह आप पंजाब कुसुम योजना में रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया को पूरा कर सकेंगे।

कुसुम योजना पंजीकृत आवेदकों की सूची में नाम ऐसे देखें

कुसुम योजना में आवेदन करने वाले आवेदक अब अपना नाम गर बैठे ही आवेदक लिस्ट में देख सकते हैं, ऑनलाइन योजना में पंजीकृत आवेदकों की सूची में नाम देखने के लिए आवेदक यहाँ बताए गए स्टेप्स को फॉलो करें।

  • इसके लिए सबसे पहले आवेदक योजना की ऑफिसियल वेबसाइट पर विजिट करें।
  • अब होम पेज में आपको नीचे कुसुम के लिए पंजीकृत आवेदनों की सूची एक विकल्प दिखाई देगा, जिसमें आपको क्लिक करना होगा।
  • अब आप योजना के लिए पंजीकृत आवेदनों की सूची पर क्लिक कर दें।
  • कुसुम पंजीकृत आवेदनों की सूची पर क्लिक करने के बाद आपकी स्क्रीन पर अगला पेज खुल जाएगा।
  • अब आप सिलेक्टेड के विकल्प में अपना नाम भरकर सर्च पर क्लिक कर दें।
  • इसके बाद आपकी स्क्रीन पर पंजीकृत आवेदकों की सूची खुलकर आ जाएगी।
  • इस लिस्ट में आप अपना नाम चेक कर ढूंढ़कर चेक कर सकते हैं।

ग्रीवेंस दर्ज करने की प्रक्रिया

कुसुम योजना से संबंधित किसी भी तरह की समस्या होने पर आवेदक इसकी शिकायत भी पोर्टल पर दर्ज कर सकते हैं, ऑनलाइन ग्रीवेंस दर्ज करने के लिए आवेदक यहाँ बताए गए स्टेप्स को फॉलो कर सकते हैं।

  • ग्रीवेंस दर्ज करने के लिए आवेदक सबसे पहले इसकी ऑफिसियल वेबसाइट पर विजिट करें।
  • अब होम पेज पर आपको पब्लिक ग्रीवेंस एंड कंप्लेंट रिड्रेसल मैकेनिज्म के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • इसके बाद आपकी स्क्रीन पर ग्रीवेंस फॉर्म खुलकर आ जाएगा।
  • यहाँ आपको फॉर्म में पूछी गई सभी जानकारी जैसे आपका नाम, ईमेल आईडी, एड्रेस, ग्रीवेंस डिटेल्स आदि दर्ज करनी होगी।
  • सारी जानकारी भरकर आप सबमिट के विकल्प पर क्लिक कर दें।
  • इस तरह आपकी शिकायत पोर्टल पर दर्ज हो जाएगी।

सोलर रूफटॉप फाइनेंशियल कैलकुलेटर

  • सोलर रूफटॉप फाइनेंशियल कैलकुलेटर के लिए आवेदक सबसे पहले इसकी ऑफिसियल वेबसाइट पर जाएं।
  • यहाँ होम पेज पर आपको सोलर रूफटॉप फाइनेंशियल कैलकुलेटर का विकल्प मिलेगा, जिसपर आपको क्लिक करना होगा।
  • इसके बाद आपकी स्क्रीन पर नया पेज खुलकर आ जाएगा।
  • यहाँ आपको पूछी गई जानकारी जैसे रूफटॉप एरिया, राज्य, कंज्यूमर कैटेगरी आदि का चयन करना होगा।
  • अब आप नीचे कैलकुलेट के विकल्प पर क्लिक कर दें।
  • जिसके बाद आपकी स्क्रीन पर सोलर रूफटॉप फाइनेंशियल कैलकुलेटर की गणना खुलकर आ जाएगी।

ऑफलाइन रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया

  • योजना में ऑफलाइन रजिस्ट्रेशन के लिए आवेदक कुसुम योजना से संबंधित कार्यालय से फॉर्म प्राप्त कर सकते हैं, इसके आलावा आप चाहे तो योजना की ऑफिसियल वेबसाइट से भी आवेदन फॉर्म को डाउनलोड कर सकते हैं।
  • फॉर्म प्राप्त करने के बाद आप इसमें पूछ गई सभी जानकारी धानपूर्वक सही से भर दें।
  • इसके बाद फॉर्म में मांगे गए दस्तावेजों को अटैच करके फॉर्म की जांच कर लें।
  • अब आखिर में अपने फॉर्म को संबंधित कार्यालय में ही जमा करवा दें।
  • इस तरह आप योजना के लिए ऑफलाइन रजिस्ट्रेशन कर सकेंगे।

हेल्पलाइन नंबर

प्रधानमंत्री कुसुम योजना से संबंधित किसी भी तरह की समस्या या जानकारी के लिए इसका हेल्पलाइन नंबर: 011-2436, 800-180-3333, 011-2436-0707 भी जारी किए गए हैं, इन हेल्पलाइन नंबरों पर संपर्क करके आप योजना से संबंधित किसी भी तरह के प्रश्न का उत्तर प्राप्त कर सकेंगे।

पीएम कुसुम योजना के अंतर्गत कितना बजट निर्धारित किया गया है?

पीएम कुसुम योजना के अंतर्गत 1000 करोड़ रूपये का बजट निर्धारित किया गया है जिसे 10 साल की अवधि के लिए रखा गया है।

कुसुम योजना का लाभ कीन्हे प्राप्त हो सकेगा?

कुसुम योजना का लाभ केवल देश के किसानों को दिया जाएगा, अन्य व्यक्ति योजना का लाभ लेने के पात्र नहीं होंगे।

Related Post

Leave a Comment

error: Content is protected !!