JOIN US ON TELEGRAM Join Now
JOIN US ON WHATSAPP Join Now

Cibil Score – आखिर कैसे घटता और बढ़ता है सिबिल स्कोर, जानें इसका रहस्य

किसी भी व्यक्ति का CIBIL Score उसके Credit Worthiness का पैमाना होता है। इसे क्रेडिट स्कोर के नाम से भी जाना जाता है। जब भी आप किसी बैंक अथवा NBFC के माध्यम से लोन के लिए आवेदन करते हैं तो ऋणदाता द्वारा अनिवार्य रूप से आपका सिबिल स्कोर चेक किया जाता है। अगर आपका सिबिल स्कोर 750 या उससे अधिक है तो कोई बैंक या वित्तीय संस्थान बहुत ही आसानी से कम ब्याज दर आपको लोन दे देता है। वही अगर आपका आपका सिबिल सिबिल स्कोर कम या ख़राब है तो लोन लेने में बहुत परेशानी का सामना करना पड़ता है।

जाने-अनजाने और जानकारी के अभाव में आपकी अनियमित क्रेडिट हिस्ट्री के कारण आपका सिबिल स्कोर ख़राब हो जाता है। आइये इस आर्टिकल के माध्यम से जानते हैं कि आखिर कैसे घटता और बढ़ता है सिबिल स्कोर, जानें इसका रहस्य।

Cibil Score - आखिर कैसे घटता और बढ़ता है सिबिल स्कोर, जानें इसका रहस्य

CIBIL Score क्या होता है?

भारतीय रिज़र्व बैंक द्वारा CIBIL, Equifax, Experian और CRIF Highmark क्रेडिट एजेंसियों को ही क्रेडिट रिपोर्ट बनाने का लाइसेंस दिया गया है। हमारे देश में 2004 में पहली बार क्रेडिट ब्यूरो सेवाओं की शुरुआत हुई थी। 2007 में बैंकों और वित्तीय संस्थानों हेतु देश का पहला जेनेरिक रिस्क स्कोरिंग मॉडल (सिबिल स्कोर) प्रस्तुत किया गया। इसके बाद 2011 में सिबिल ट्रांसयूनियन स्कोर को व्यक्तिगत ग्राहकों के लिए पेश किया गया। वर्तमान में सिबिल के पास 1000 मिलियन से अधिक लोगों और बिज़नेस संस्थानों के क्रेडिट रिकार्ड्स उपलब्ध हैं। ट्रांसयूनियन सिबिल एक अमेरिकी कंपनी है।

सिबिल रिपोर्ट तैयार करने वाली क्रेडिट एजेंसियां आपके सिबिल स्कोर को तीन अंकों की संख्या के माध्यम से दर्शाते हैं जो 300 से 900 के बीच होती हैं। क्रेडिट रेटिंग एजेंसी आपके पूरे क्रेडिट प्रोफाइल का आकलन करने के उपरांत सिबिल स्कोर तैयार करती है। सिबिल स्कोर के माध्यम से लोन देने वाले संस्थान आपके Credit Worthiness और Loan Repayment Capacity के बारे में निर्णय लेते हैं। 750 या उससे अधिक का सिबिल स्कोर आसानी से लोन पाने के लिए अच्छा माना जाता है।

CIBIL Score कम है फिर भी मिलेगा मनचाहा Loan, जानें कैसे

सिबिल स्कोर घटने के प्रमुख कारण

अनियमित और अनियंत्रित वित्तीय प्रबंधन के कारण आपका सिबिल स्कोर घट जाता है। CIBIL Score घटने के प्रमुख कारण निम्नलिखित हैं।

EMI भुगतान का ख़राब रिकॉर्ड

लोन अथवा क्रेडिट कार्ड की EMI भुगतान का ख़राब रिकॉर्ड आपका सिबिल स्कोर तय करने में मुख्य भूमिका निभाता है। अगर आपने अपने लोन की मासिक क़िस्त अथवा क्रेडिट कार्ड बिल का भुगतान समय पर नहीं किया है, तो आपका स्कोर कम हो जाएगा। सिबिल रिपोर्ट में डिफॉल्ट होने से भी आपका CIBIL Score घट जाता है। आपको बता दें कि अगर अधिक समय तक लोन की कम राशि भी बकाया रहती है तो आपके सिबिल स्कोर को काफी घटा देती है।

कम समयांतराल में बार-बार नए क्रेडिट कार्ड /लोन के लिए अप्लाई करना

अगर आप बहुत कम समयांतराल में ही विभिन्न बैंक अथवा NBFC के माध्यम से कई बार नए लोन या क्रेडिट कार्ड के लिए अप्लाई करते हैं, तो इससे वित्तीय संस्थाएं आपके बारे में हार्ड-इन्क्वायरी करती हैं। इन सभी हार्ड-इन्क्वायरी का ब्यौरा आपके सिबिल रिपोर्ट में दर्ज हो जाता है। इससे बैंक और वित्तीय संस्थाओं की नजर में आपकी छवि Credit Hungry की बन जाती है जिससे आपके लोन आवेदन के अप्रूव होने की संभावना बहुत घट जाती है। बार-बार लोन अथवा क्रेडिट कार्ड का आवेदन ख़ारिज (Reject) होने से आपका Cibil Score काफी घट जाता है।

असंतुलित क्रेडिट मिक्स

क्रेडिट मिक्स का मतलब होता है कि सिक्योर्ड और अन-सिक्योर्ड लोन का अनुपात। अगर आपने सिक्योर्ड क्रेडिट जैसे कि होम लोन, कार लोन, गोल्ड लोन इत्यादि की तुलना में अन-सिक्योर्ड क्रेडिट जैसे कि पर्सनल लोन अथवा क्रेडिट कार्ड से अधिक ऋण लिया है तो ये आपके सिबिल स्कोर को कम कर सकता है। इसलिए अपने क्रेडिट हिस्ट्री में असुरक्षित क्रेडिट (Unsecured Loan) की संख्या को कम रखें।

किसी अन्य व्यक्ति के लोन में सह-आवेदक या गारंटर होना

आपको सोच समझकर कर ही किसी भी व्यक्ति के लोन में सह-आवेदक या गारंटर बनना चाहिए क्योकि ऐसा होने पर अगर वो व्यक्ति अपने लोन की किस्तों का समय से भुगतान नहीं करता है तो इससे आपका भी सिबिल स्कोर घट सकता है। इसीलिए स्थाई आय के स्रोत वाले वाले विश्वसनीय व्यक्ति के लोन में ही सह-आवेदक /गारंटर बनना चाहिए।

Minimum Cibil Phone Pe Loan 2024: पेमेंट के साथ लोन भी, 50000 का लोन सिर्फ फ़ोन पे से

उच्च ऋण उपयोग अनुपात (High Credit Utilization Ratio)

कोई भी व्यक्ति अपनी क्रेडिट सीमा का जितना हिस्सा उपयोग करता है वही उसका ऋण उपयोग अनुपात होता है। उदाहरण के लिए यदि आपके क्रेडिट कार्ड की लिमिट 2 लाख है जिसमें से आपने 80 हजार की लिमिट का उपयोग कर लिया है तो आपका क्रेडिट यूटिलाइजेशन रेश्यो 40% होगा। अगर आपका क्रेडिट यूटिलाईज़ेशन रेश्यो 30% से ज़्यादा है तो इसका मतलब आप अपने खर्चों के लिए क्रेडिट पर अधिक निर्भर हैं और आप पर भुगतान का बोझ भी ज्यादा है। जिससे लोन भुगतान में डिफ़ॉल्ट की संभावना बनी रहती है इससे आपका CIBIL Score कम हो जाता है।

क्रेडिट रिपोर्ट में गलत जानकारी

कभी कभार आपके सिबिल रिपोर्ट में उस लोन की जानकारी भी दर्ज हो जाती है जो आपने कभी लिया ही नहीं है। इसके अलावा आपके पेमेंट हिस्ट्री में भी गलत टैगिंग हो सकती है जैसे कि आपके लोन का भुगतान कर दिया है लेकिन हिस्ट्री में गलती से Payment Default की Tagging हो गई है। जिससे आपका सिबिल स्कोर लगातार घटता रहता है। इसीलिए आपको एक निश्चित समयांतराल पर अपनी सिबिल रिपोर्ट को चेक करते रहना चाहिए। और रिपोर्ट में किसी भी प्रकार की गलत जानकारी दर्ज होने की स्थिति में, उसमें सुधार के लिए तत्काल क्रेडिट रेटिंग एजेंसी CIBIL को सूचित करना चाहिए।

सिबिल स्कोर बढ़ाने का तरीका

नीचे दिए आसान तरीकों को अपनाकार आप अपना सिबिल स्कोर घटने से बचा सकते हैं और साथ ही साथ इसे बढ़ा भी कर सकते हैं।

  • क्रेडिट मिक्स को बनाये रखें अर्थात Unsecured और Secured Loan के अनुपात को संतुलित रखें।
  • अपने क्रेडिट कार्ड और लोन की क़िस्त का समय से भुगतान करें।
  • कोशिश करें कि अपने क्रेडिट लिमिट का 30 प्रतिशत से अधिक उपयोग न करें।
  • एक ही समय में बार बार नए क्रेडिट कार्ड अथवा लोन के लिए न अप्लाई करें।
  • किसी के लोन में सोच समझकर गारंटर बनें क्योकि अगर वह व्यक्ति लोन नहीं जमा करता है तो इससे आपके सिबिल स्कोर पर नेगेटिव प्रभाव पड़ता है।
  • कम पैसों का लोन लेकर समय से उसका भुगतान करने पर आप अपना सिबिल स्कोर बहुत आसानी से बढ़ा सकते हैं।
  • समय समय पर अपने क्रेडिट रिपोर्ट की सावधानी पूर्वक जांच करें। अगर इसमें कोई भी गलत लोन अथवा पेमेंट हिस्ट्री में Incorrect Tagging हुई हो तो तत्काल CIBIL (Credit Information Bureau Of India Limited) में शिकायत दर्ज कराएं।
  • बैंक और NBFC ग्राहकों के लिए तरह तरह के क्रेडिट कार्ड ऑफर करते रहते हैं। अगर आपके पास पहले से क्रेडिट कार्ड है तो आपको कई क्रेडिट कार्ड नहीं इस्तेमाल करना चाहिए।

CIBIL Score बढ़ाने के तरीके के बारे में विस्तार से जानने के लिए इसे पढ़ेंHow To Improve CIBIL Score Instantly: सिबिल स्कोर हो गया ख़राब या कम है? इस चमत्कारी तरीके से बढ़ाओ अपना सिबिल स्कोर

Related Post

Leave a Comment

error: Content is protected !!